रामलखन के घरमे सभी गुटका खर्रा ,माजा प्रतिबंधित माल बेचने वाले चिल्लर बिक्रेताओं की मीटिंग में जयसुख -वसीम के घमंडभरी बातोंके बोलबचन ⁉️

18

*जानलेवा अवैध प्रतिबंधित गुटका खर्रा के ड्रग्स माफीयाँ जयसुख -वसीम ने यह प्रतिबंधित माल टपरीयोंपर और किराना दुकानो में बेचनेवाले अपने चिल्लर ग्राहकों की राम लखन नामक चुहेनुमा गुर्गे के घरमे कल दिनांक 9 जुलाई को गुप्त मीटिंग लेकर उनका डर निकलने के उद्देश से कहा के ” तुम लोग डरो मत एस पी , एल सी बी , डी वाय एस पी , थानेदार , फूड और ड्रग्स वाले सबको हम तगडा हप्ता देते हैं कोई भी तुमपर छापा नही मारेंगे , ” डी वाय एस पि तो खुद मुझे फोन करके बुलाता है और रुपया लेता है ,उसके कई फोन मेरे पास टेप है” यह बोलबचन जयसुख ने किये हैं⁉️ कोईभी कितना भी चिल्लाये पेपर में अपने खिलाफ समाचार छापे तो भी तुमपर छापेमारी नही होगी ” ❗*
* ” हम हर हप्ते मे 25 -30 लाख ( पच्चीस से तीस लाख ) रुपयोंका माल रामलखन के यहाँ भेजते हैं , उसके ,जेठ्या के , सागर के , धीरज नितेश के खिलाफ गुटका खर्रा सप्लाई करनेके चितेगांव में नकली गुटका खर्रा बनाने के कई समाचार अशरफ मिस्त्री ने , भोजराज गोवर्धन और मंगेश पोटवार ने छापे है फिरभी कभी छापा पडा क्या बताओ “❓*
* ” हमने एल सी बी वाले पहले के सहाब को ऑफिस में टेबल ,फर्नीचर , अलमारी , पर्दे बढिया महाराजा टाईप चेयर और ऑफिस में ए सी तक लगवा दिये थे ⁉️उस साहब की जब एल सी बी से दूसरी जगह ट्रांसफर हो गई तो उस साहब ने वह सब ए सी टेबल , कुर्सी , फर्नीचर , पर्दे सब सामान वहाँ से निकाल कर अपने साथ लेकर गया ❗यह समाचार भी छापा गया था तो गृह मंत्रालय ने या जिलेके पुलिस महकमे के बडे अधिकारियोंने उस साहब का क्या बिगाड़ लिये ⁉️सबको हम माल पहोचाते है ,सब हमारे दबैल है ” ❗ *
* ” तुम लोग बेफिकर होकर जमकर माल बेचो , हम तुम्हारे पीछे बैठे हैं ❗जिलेके और यहाँ के कई न्यूज़ वाले अपने साथ है ❗पहले के एक साहब की हप्ता वसूली का करीब हर महीनेका तीस लाख रुपया एक बॉडी बिल्डर अपनी बैग में वह रुपया लेकर उस साहब के साथ उसके गाँव जाता था और वह रुपया उनके घर पहोचाने का काम करता था ,और दूसरा साहब अपनी वसूली का लाखों रुपया जिस शख्स की बैग में रखकर उसको साथमे लेकर नागपुर से फ्लाईट से मुंबई जाता था और फिर मुंबई से टैक्सी से अपने गाँव लेकर जाता था , यह बडी पहोच वाले लोग अपने साथ है ❗अब तुमको किसीसे डरने की जरूरत नही ” ❗*
* ” हम अशरफ मिस्त्री का क्या करना है उसको भी जल्दीसे देख लेंगे ❓उसकी बोलती ह मेशा के लिये बंद कर देंगे ❗ दूसरे एक दो पत्रकारों को छोडकर जिले भरमे कोई भी हमारे खिलाफ नही छापता ❗सब हमारे यार दोस्त हैं ❗जरा ठहरो अभी जल्दी ही अशरफ का अंजाम देखने के बाद सबकी बोलतीअपने आप बंद हो जायेंगी “!*
*अभी परसोही हमने फूड वालोंको रामलखन के जरिये तुम्हारे ही गाँव मे उसीके घरमे 5 लाख ( पाँच लाख ) रुपये पहोंचाये है ⁉️ तुम्हारा कोई कुछ नही उखाड़ सकता ❗*
*जिलेके बडेसे बडे ऑफिसरों से याराना रिश्ते रखनेवाला उनके साथ हर प्रोग्राम में साथमे रहनेवाला जिसके फोटो हर न्यूज़ में व्हाट्सएप पर हर दिन आते हैं वह भी अपने ही साथ है ❗किसीके भी बापसे डरो मत ❗लाखोंका माल तो हम तुम सबको उधार देते हैं अगर पकडे गये तो हमारा माल जब्त होगा तो नुकसान हमारा ही होगा तुम्हारा क्या जायेगा ⁉️*