जहरीले धुएं के कारण सांस लेना दूभर !

49

*बच्चों के पार्क को बना दिया है कूड़े का मैदान !*
*नगर निगम चुनाव का बहिष्कार कर सकते हैं मतदाता !?

 

*नैनी, प्रयागराज । लेबर कॉलोनी, नैनी, वार्ड संख्या 81, नगर निगम, प्रयागराज क्षेत्र में सफाई व्यवस्था की स्थिति बेहद लचर और जानलेवा हो गई है ।*
*लोगों के घरों के सामने ट्रकों में भर कर कूड़ा फेंक दिया जा रहा है। फिर कूड़े में आग लगा दी जाती है । कूड़े से उठने वाला धुआं लोगों के घरों में भर जाता है । कूड़े से उठने वाले धुएं के कारण इस मैदान के सामने रहने वाले कॉलोनी के लोगों का सांस लेना दुश्वार हो गया है। छोटे-छोटे बच्चे जहरीले धुएं के कारण तड़पने लगते हैं ।*
*नगर निगम प्रशासन और जिला प्रशासन को कई बार इस बारे में पत्र भेजा गया । लोगों ने आंदोलन भी किया। धरना प्रदर्शन हुआ। लेकिन जनता को परेशान करने के लिए पहले से और अधिक कूड़ा यहां फेंका जाने लगा है।*
*भारत सरकार द्वारा नागरिकों की के लिए नैनी में सामुदायिक केंद्र राजकीय श्रम हितकारी केंद्र की लेबर कॉलोनी नैनी में (1950 ) स्थापना की गई थी । इस केंद्र में बच्चों के लिए झूले, खेल का मैदान, पुस्तकालय, वाचनालय, प्रातः कालीन भ्रमण के लिए ट्रेक , व्यामशाला आदि की सभी सुविधाएं 50 वर्षों से उपलब्ध थी।*
*पिछले कई वर्षों से सामान्य जनता के लिए उपलब्ध इस अत्यंत महत्वपूर्ण स्थान को बंद कर दिया गया है। इस केंद्र में सामान्य जनता के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है । इस केंद्र परिसर में जहां बच्चों के झूले लगे थे। खेल का मैदान था। वहां अब कूड़ा फेंका जा रहा है ।*
*इस समस्या को लेकर स्थानीय लोग बहुत परेशान हैं।*
*नगर निगम का चुनाव हो रहा है। लेकिन इस समस्या की ओर कोई प्रत्याशी ध्यान नहीं दे रहा है ।* *शासन, प्रशासन, नगर निगम प्रशासन, जिला प्रशासन की इस अनदेखी के कारण लोग बहुत निराश हैं। स्थानीय जनता का कहना है कि अगर चुनाव के समय समस्या पर ध्यान नहीं दिया गया तो चुनाव के बाद समस्या जस की तस रह जाएगी । इसलिए इस गंभीर समस्या की ओर ध्यान दिलाने के लिए स्थानीय मतदाताओं ने कड़ा निर्णय लिया है।*
*लोगों का कहना है कि अगर इस कूड़े के ढेर को नहीं हटाया गया तो वह नगर निगम चुनाव का बहिष्कार कर सकते हैं। श्रमिक कल्याण समिति के सचिव विनय मिश्र ने कहा है कि राजकीय श्रम हितकारी को क्षेत्र के मजदूरों और उनके बच्चों के हितों के लिए स्थापित किया गया था। इस सार्वजनिक स्थान पर कूड़ा फेंकना और गंदगी फैलाना एक जघन्य अपराध है । यहां पर कूड़ा फेंक फेंक कर स्थानीय निवासियों का जीना दुश्वार कर दिया गया है । कूड़ा फेंकने वाले लोगों का विरोध करने पर वे स्थानीय निवासियों को डराते और धमकाते हैं।*
*श्री मिश्र ने कहा है कि यदि 1 सप्ताह के भीतर इस कूड़े का निस्तारण नहीं कराया गया । इस सार्वजनिक मैदान में कूड़ा फेंकने पर रोक नहीं लगाई गई तो स्थानीय निवासियों की बैठक होगी । जिसमें महत्वपूर्ण निर्णय लिए जाएंगे।*