‼️कोटड़ा के कुत्ते पर पैंथर का हमला:‼️?एक ख़बर!

130

 

_*राहुल बाबा को ई डी ने जांच के लिए बुलवाया: विरोध में उतरे कांग्रेसी: ?दूसरी ख़बर!*_

_*दोनों ख़बरों पर अलग अलग ब्लॉग*_?‍♂️

*✒️सुरेन्द्र चतुर्वेदीजी की बेबाक कलमसे✍️*
*INDIA NEWS24 Live? से साभार प्राप्त*

*पत्रकार कॉलोनी अजमेर के पास कोटडा में पैंथर ने कुत्ते पर हमला कर दिया। यह मामूली सी ख़बर आज के एक स्थानीय अख़बार में छपी, जो मेरे लिए बहुत चिंता की बात है ।*?
*मॉर्निंग वॉक पर अपने पालतू कुत्ते को घुमाने ले जा रहे किसी व्यक्ति ने जानकारी दी कि उसके कुत्ते पर पैंथर ने हमला किया। वह तो गनीमत है कि शोर मचाने और कुत्ते के भौंकने पर पैंथर भाग छूटा। मुझे उम्मीद है कि वन विभाग पैंथर की इस नाजायज़ हरक़त पर तुरंत हरक़त में आएगा ,और दोषी हमलावर पैंथर की नाक में नकेल डालेगा।*?
*आप भी कहेंगे कि चतुर्वेदी जी !! मामूली से कुत्ते के प्रति आपकी संवेदनाएं इतनी प्रबल क्यों हो रही हैं❓कुत्ते पर हमला करने की कोशिश ही तो हुई है उसे मार तो नहीं दिया गया! इतनी छोटी सी ख़बर पर ब्लॉग लिखने की क्या ज़रूरत है। जो ढाई लाख लोग रोज़ आपके ब्लॉग पढ़ते और शेयर करते हैं, क्या उन्हें अब कुत्ते पर होने वाले कथित हमले का ब्लॉग भी पढ़ना होगा!*?
*जी हां दोस्तों!! यह ब्लॉग पैंथर और कुत्ते के बीच की मामूली ख़बर नहीं ।कुत्ता अपनी गली में शेर होता है, इस कहावत को तो आप मानेंगे ही ना ? कुत्ता चाहे कोटड़ा का हो या दिल्ली का वह अपनी गली में बब्बर शेर होता है। भले ही होता न भी हो तो मानता तो है ही ।*?‍♂️
*कोटड़ा के कुत्ते ने एन टाइम पर भौंक कर पेंथर के हमले को नाकाम कर दिया यह ख़बर कोई मामूली नहीं है। यह तो गनीमत हुई कि बावले पैंथर ने अजमेर के किसी गली कूँचे वाले कुत्ते पर हमला करने की गुस्ताक़ी नहीं की । पालतू कुत्ते (जो संगठित नहीं होते) पर हमला किया ।यदि यही कुत्ता गली का होता तो पैंथर की क्या मट्टी पलीत होती इसकी वह कल्पना नहीं कर सकता था।*?
*दोस्तो ! आपातकाल में कुत्ता प्रजाति हमेशा एक हो जाती है। ख़ास तौर से हमले के वक्त!बात बात में आपस में लड़ते रहने वाले गली के कुत्ते हमला होने पर एकताबद्ध हो कर हमलावर का सामना करते हैं ।*?
*मुझे ख़ुशी है कि कोटड़ा के एक इकलौते पालतू गंडक ने (कुत्ते का पर्यायवाची) बाहुबली पैंथर को वापस लौटने पर मजबूर कर दिया। पैंथर गली के कुत्तों तक ख़बर पहुंचने से पहले ही पतली गली से पार हो गया ।*?
*अब आप ज़रा सोचिए कि आए दिन गांव की बाड़ेबंदी से पैंथर किस तरह मासूम मवेशियों को चीर फाड़ कर उठा ले जाते हैं।*?
*ऐसे हिंसक जानवरों पर सरकार को तत्काल कुछ गंभीर किस्म के फैसले लेने चाहिए ।*?‍♂️
*अब आइए एक नई ख़बर पर ब्लॉग को आगे बढ़ाता हूँ।कोटड़ा के कुत्ते की बात आप एक दम ख़त्म ही मान लें।भूल कर भी उसे इस ख़बर से न जोड़ें।आपसे हाथ जोड़ कर प्रार्थना है।?*
*जिस तरह दिल्ली में राहुल बाबा पर इ डी हमलावर हो रही है जाँच के नाम पर उनको परेशान किया जा रहा है ।नेशनल हेराल्ड के कथित घोटाले में दो हज़ार करोड़ की हेराफेरी का आरोप है ।उसे देखते हुए पूरी कांग्रेस सड़क पर उतर आई है।सामने कथित निर्दोष राहुल बाबा बार-बार कह रहे हैं कि मैया मोरी मैं नहीं माखन खायो।?*
*राहुल बाबा की तरह भोले भाले भगवान कृष्ण पर भी यशोदा मैया ने कुछ ऐसा ही आरोप लगा दिया था।शायद राहुल बाबा की तरह कृष्ण जी ने भी माखन नहीं खाया होगा ।शायद घर के फर्श पर माखन फैल गया होगा। वह साफ़ कर रहे होंगे और उनके हाथ मक्खन से मेले हो गए होंगे। तभी यशोदा मैया ने पैंथर की तरह उन्हें झपट लिया होगा ।*?
*आंखों से अंधे सूरदास ने देखिए कितना संवेदनशील भजन लिख दिया “मैया मोरी मैं नहीं माखन खायो”. सूरदास जी जैसे माखन कांड में चश्मदीद गवाह रहे हों। हेराल्ड घोटाले को लेकर एक तरफ सरकारी जांच एजेंसी पैंथर बनी हुई है तो दूसरी तरफ कांग्रेसी संगठित होकर देशव्यापी आंदोलन चलाकर जांच कार्य का विरोध कर रहे हैं ।*?
*देखिए यहां कृपया मुझे अन्यथा ना लें ! कोटड़ा में पैंथर ने भले ही कुत्ते पर हमला किया हो और मैंने उस पर ब्लॉग लिख दिया है, मगर यहां मामला कोटड़ा वाला बिल्कुल भी नहीं है। यहां बाइज्जत राहुल बाबा का मैटर है। उनके सामने भले ही इ डी पैंथर की तरह हमलावर हो , लेकिन उनकी स्थिति किसी भी तरह कोटडा वाली नहीं है।*❌
*राहुल बाबा मेरी नज़रों में देश के सम्मानित नेता हैं ।उनके साथ अच्छा नहीं हो रहा।दो हज़ार करोड़ उनके लिए कोई मायने नहीं रखते। वह तो कई लाख करोड़ों पर भी थूकते हैं ।ऐसे में उन्हें जांच के लिए बुलाना। वह भी मामूली आरोपी की तरह ।अच्छी बात नहीं ।पूरा हिंदुस्तान राहुल बाबा के साथ है।?*
*देखिए सारे कांग्रेसी उनके समर्थन में सड़कों पर उतर आए हैं। मुख्यमंत्री गहलोत ने कल उनके बचाव में पुलिस की हिरासत का सामना किया ।*
*मुझे याद आ रही हैं पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी! जिनको मामूली अपराधी की तरह तत्कालीन व्यवस्था ने जेल भिजवा दिया था ।तब भी यही हुआ था ।वे जेल से वापस लौटी तो पूरे देश में क्रांति आ गई ।वे पूर्ण बहुमत से चुनाव जीतीं।*?
*मैं नहीं चाहता कि राहुल बाबा पर कोई आंच आए! उन्हें किसी आपत्तिजनक स्थान पर जाना पड़े! मगर उन पर हो रही कार्रवाई से कांग्रेस मजबूत होगी। संगठित होगी । उसका जनाधार बढ़ेगा। ?इति श्री राहुल बाबा पुराण समाप्त ।*?
*चलिए अब फिर एक बार मै कोटड़ा वाले कुत्ते पर आ जाता हूं। कुत्ता बच गया इसके लिए मैं उनके मालिक को बधाई देता हूं और उम्मीद करता हूँ कि शहर के कुत्ते अब सावधान हो जाएंगे ।पैंथर अगर कोटडा आ सकता है तो कहीं भी आ सकता है। सभी कुत्ता मालिकों को यह सोचकर ही कुत्तों को साथ लेकर घूमने जाना चाहिए। ?‍♂️*