मूल के सार्वजनिक बांधकाम विभाग के अनदेखियों के चलते मूल के पोलिस निरीक्षक सुमित परतेकी ने चंद्रपुर -मूल के हाईवे रोड पर पडे बडे बडे गढ्ढों के चलते आये दिन टू व्हिलरों , कारों आदिकी होनेवाली जानलेवा दुर्घटनाओं को देखते हुवे अपने स्टॉफ के साथ उन गढ्ढों को बुझाकर मानवता का परिचय दिया !

18

*मूल से चंद्रपुर सार्वजनिक बांधकाम विभाग के अंतर्गत आनेवाले हाईवे रोड पर अंधारी नदी के टर्निंग पॉइंट ( मोडतक ) इतने बडे बडे गढ्ढे हो गये थे और बारिश का पानी उन गढ्ढों मे भरा रहनेसे गढ्ढे रातके अंधेरे मे तो क्या दिनके उजाले मे भी नजर नही आते थे !*
*जिसके चलते इस रास्तेपर टू व्हिलरों और कारों की आये दिन दुर्घटनाएँ होती रहती थी !।।मूल पोलिस स्टेशन के निरीक्षक सुमित परतेकी ने मूल के सार्वजनिक बांधकाम विभाग के अधिकारियों को इस बातसे अवगत करते हुवे इन गढ्ढों को बुझाने की माँग भी की थी !*
*लेकिन मूल का सार्वजनिक विभाग गहरी नींदमें ही सोया रहा ! विगत समय मूल चंद्रपुर हाईवे रोड के इस दुर्दशा के बारेमे कई समाचारपत्रों मे भी समाचार तक प्रकाशित हुवे थे ! लेकिन बांधकाम विभाग के कानों पर जूँ तक नही रेंगी थी !*
*पोलिस निरीक्षक सुमित परतेकी ने राहगीरों को जानमाल के नुकसान से बचाने के उद्देश से अपने पोलिस स्टॉफ के दलबल के साथ अंधारी नदीके मोड़पर और इस रोडपर पडे हुवे बडे बडे गढ्ढे डांबर गिट्टी चुरी का मिश्रण कर उन बडे बडे गढ्ढों को बुझाकर सुमित परतेकी ने वर्दी की गर्मी मे न जाते हुवे मानवता का परिचय दिया !*
*सुमित परतेकी और उनके पोलिस स्टॉफ के इस कामके चलते पूरे क्षेत्र मे उनकी और उनके दलबल की सर्वत्र सराहना हो रही है !*
*