चंद्रपुर सुपर थर्मल पावर स्टेशन के प्रदूषण से दम तोड़ती जिंदगी

40

*प्रदूषण नियंत्रण विभाग की अनदेखी से चंद्रपुर वासियों पर मंडरा रहा बीमारियों का खतरा*
*चंद्रपुर शहर प्रदूषण की चपेट मे !? प्रदूषण नियंत्रण विभाग की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान !*

*चंद्रपुर :- प्रदूषण एक प्रकार का अत्यंत धीमा जहर है, जो हवा, पानी, धूल आदि के माध्यम से न केवल मनुष्य के शरीर में प्रवेश कर उसे रुग्ण बना देता है, वरन् जीव-जंतुओं, पशु-पक्षियों, पेड़-पौधों और वनस्पतियों को भी सड़ा-गलाकर नष्ट कर देता है।* *आज अर्थात् प्रदूषण के कारण ही विश्व में प्राणियों का अस्तित्व खतरे में पड़ गया है। इसी कारण बहुत से प्राणी, जीव-जंतु, पशु-पक्षी, वन्य प्राणी इस संसार से विलुप्त हो गए हैं, उनका अस्तित्व ही समाप्त हो गया है। यही नहीं प्रदूषण अनेक भयानक बीमारियों को जन्म देता है।* *कैंसर, तपेदिक, रक्तचाप, शुगर, एंसीफिलायटिस, स्नोलिया, दमा, हैजा, मलेरिया, चर्मरोग, नेत्ररोग और स्वाइन फ्लू, जिससे सारा विश्व भयाक्रांत है, इसी प्रदूषण का प्रतिफल है। आज पूरा पर्यावरण बीमार है। हम आज बीमार पर्यावरण में जी रहे हैं। अर्थात् हम सब किसी-न-किसी बीमारी से ग्रसित हैं। आज सारे संसार में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है, जो बीमार न हो। प्रदूषण के कारण आज बहुत बड़ा संकट उपस्थित हो गया है।*

*चंद्रपुर सुपर थर्मल पावर स्टेशन के चिमनियों से निकलने वाला धुँवा वायु प्रदूषण से एथरोस्क्लेरोसिस यानी धमनियों में वसा, कैल्शियम व कोलेस्ट्राल का प्लाक तेजी से बनता है, जिससे दिल तक आक्सीजनयुक्त रक्त पहुंचने में बाधा आती है।जिससे युवाओं में भी दिल का दौरा व स्ट्रोक बढ़ा है। और चंद्रपुर वासियों में छींक आना, नाक और गले में दर्द, गला खराब, सांस फूलने, एलर्जिक रानाइटिस एवं खांसी के मरीजों की संख्या अचानक बढ़ी है।*

*प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की सख्त गाइडलाइन के बावजूद चंद्रपुर का प्रदूषण नियंत्रण विभाग और चंद्रपुर सुपर थर्मल पावर स्टेशन के अधिकारियों की अनदेखी की वजह से चंद्रपुर वासियों पर मंडरा रहा बीमारियों का खतरा लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं है।*
*आम नागरिकों के स्वास्थ्य पर हो रहे प्रदूषण के परिणाम को देखते हुए सुल्तान अशरफ़ अली जिल्हा प्रतिनिधि भारतीय माहिती अधिकार ने मांग की है कि Cstps के CSR फण्ड से नागरिकों के लिए free इलाज मुहैय्या कराया जाए और प्रदूषण नियंत्रण के लिए ठोस कदम उठाए जाएं।*