सावित्री फातिमा कौटुंबिक सल्ला केंद्र मूल और फातिमा महिला मुस्लिम कमेटी मूल के संयुक्त तत्वाधान मे भारत की प्रथम मुस्लिम शिक्षिका फातिमा शेख की जयंती मनाई गई !

97


*इस कार्यक्रम मे मूल तहसील की प्रथम महिला पत्रकार कु.कुमुदिनी भोयर को मुस्लिम समाज का धर्मग्रंथ भेट दिया गया !*

*दिनांक ९ जनवरी २०२३ को मूल स्थित सावित्री फातिमा कौटुंबिक सल्ला केंद्र एवम फातिमा महिला मुस्लिम कमेटी के तत्वाधान मे मुस्लिम समाज की प्रथम महिला शिक्षिका फातिमा शेख की जयंती के कार्यक्रम का आयोजन किया गया था !*
*फातिमा शेखने मुस्लिम महिला होते हुवे भी घरकी चार दिवारी से बाहर निकल कर सावित्री बाई फुले की तरह ही शिक्षण क्षेत्र की सेवा मे अपना जीवन समर्पित किया था !*
*महिलाओं को शिक्षण और उनके अधिकारों महिलाओ के समान दर्जे के लिये स्थापित किये गये सावित्री फातिमा कौटुंबिक सल्ला केंद्र संस्था की अध्यक्षा श्रीमती फरजाना शेख , सचिव रागिनी उर्फ नलिनी अडपवार तथा बीबी फातिमा महिला मुस्लिम कमेटी की अध्यक्षा श्रीमती वहीदा पठाण , शबनम शेख , मंगला बोरकुटे ,शकीला शेख आदि समाजसेवी महिलाओने प्रथम मुस्लिम शिक्षिका फातिमा शेख की स्त्री कल्याण कीशिक्षण क्षेत्र में की गई सेवाओं की यादमें उनका जन्मदिन महिलाओं को आमंत्रित कर मनाया गया !*
*इस कार्यक्रम मे मूल की सामाजिक कार्यकर्ता तथा मूल तहसील की प्रथम महिला पत्रकार कु. कुमुदिनी भोयर को श्रीमती फरजाना शेख तथा संस्था की अन्य पदाधिकारी महिलाओं के हाथोंसे मुस्लिम धर्मग्रंथ की हिंदी मे अनुवाद के साथ प्रकाशित कुरआन शरीफ भेट स्वरूप दिया गया ! कु. कुमुदिनी भोयर ने इसके लिये आभार व्यक्त किया और अपने विचार रखे !*
*इस कार्यक्रम मे श्रीमती फरजाना शेख , श्रीमती वाहिदा पठाण , श्रीमती रागिनी उर्फ नलिनी अडपवार श्रीमती मंगला बोरकुटे और कु .कुमुदिनी भोयर ने अपने अपने विचार रखे ! कार्यक्रम में कई संव्यसेवी महिलाएँ उपस्थित थी !*