साइबर क्राइम अपराधियों को गिरफ्तार करने की मांग

107

*फेसबुक फ्रेंड्स बनकर बादमे व्हाट्सएप नंबर माँगकर बादमे अश्लील वीडियो कॉलिंग करके उसे देखने वल्कि वीडियो और उस गिरोह के लड़की की नंगे बदन वाली अश्लील वीडियो बनाकर दिल्ली क्राईम पुलिस का डर बतलाकर लाखो रुपया यह गिरोह लूट रहा है !*

*नैनी, प्रयागराज ।*

*न्यूड वीडियो कॉल ब्लैकमेलिंग साइबर क्राइम की वजह से पूरे देश में सोशल मीडिया पर लोग बहुत परेशान हैं।*
*आम जनता को ब्लैकमेल करके रंगदारी वसूलने वाले अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को पत्र भेजा गया है । सरकार से सोशल मीडिया के बारे में एक गाइडलाइन तैयार करने की मांग की गई है ।*
*पत्र के माध्यम से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को बताया गया है कि एक ही फोटो लगाकर दर्जनों प्रोफाइल के जरिए फेसबुक और व्हाट्सएप पर लोगों को ब्लैकमेल किया जा रहा है। पूरे देश में धन उगाही हो रही है। हजारों लाखों लोग इस ब्लैकमेलिंग के शिकार हो चुके हैं। ये ब्लैकमेलर लोगों को डराते हैं। धमकाते हैं। पैसा वसूली के लिए गुंडों को भेजकर आतंकित भी करते हैं। सोशल मीडिया पर शरीफ इज्जतदार लोगों का इन्होंने जीना दुश्वार कर दिया है।*
*इन लोगों की ब्लैकमेलिंग भरी धमकियों से आजिज आकर आत्महत्या जैसी घटनाएं हो चुकी है।*
*इनकी ब्लैक मेलिंग से त्रस्त होकर बहुत से लोगों ने सोशल मीडिया से दूरी बना ली है।*
*इस तरह के साइबर क्राइम फ्राॅड गिरोह की सरगना और अन्य लोगों को नहीं पकड़ा गया तो ये अपराधी पूरे देश में इसी तरह ब्लैक मेलिंग का आतंक फैलाए रहेंगे।*
*पत्र के द्वारा अवगत कराया गया है कि पिछले दिनों साइबर क्राइम फ्रॉड गिरोह के अपराधियों ने नैनी निवासी वरिष्ठ पत्रकार विनय मिश्र से रंगदारी मांगी। व्हाट्सएप्प चैट के जरिये ब्लैकमेल किया गया। कई दिनों तक भयभीत रहने के बाद आखिरकार इस गिरोह के विरूद्ध साइबर क्राईम सेल, साइबर थाना क्राइम ब्रांच पुलिस लाइंस प्रयागराज कार्यालय में शिकायत की गई थी।*
*सरकार से मांग की गई है कि इस गिरोह के खिलाफ तत्काल एफआईआर दर्ज करके व्यापक पैमाने पर विवेचना होनी चाहिए । ताकि साइबर क्राइम के अपराधी पकड़े जा सके।*
*मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल उत्तर प्रदेश पर भी शिकायत दर्ज करायी गई है।*
*ब्लैक मेलिंग गिरोह के आतंक से त्रस्त भुक्तभोगी ने मांग की है कि पूरे देश के पैमाने पर ब्लैक मेलिंग की हो रही इन घटनाओं को रोकने के लिए तत्काल सख्त कदम उठाए जाएं। सोशल मीडिया के बारे में सरकार द्वारा गाइडलाइन तैयार की जाए ताकि फेसबुक और व्हाट्सएप के जरिए लोगों को ब्लैकमेल करने वालों को पकड़ा जा सके।*
*भुक्तभोगी ने कहा है कि इस गिरोह का पर्दाफाश होना बहुत जरूरी है। पुलिस को अनेक महत्वपूर्ण साक्ष्य दिए गए हैं। इन साक्ष्यों के आधार पर अभियुक्तों को बड़ी आसानी से पकड़ा जा सकता है।*
*प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी, गृह मंत्री श्री अमित शाह, मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के अलावा अन्य उच्च अधिकारियों को भी पत्र भेजकर उक्त संदर्भ में कार्यवाही की मांग की गई है ।*